Home   »   SSC CGL 2023 अधिसूचना   »   SSC CGL परीक्षा 2024 को क्रैक...

SSC CGL परीक्षा 2024 को क्रैक करने के लिए आपकी रणनीति क्या होनी चाहिए?

SSC स्नातक स्तरीय परीक्षा 2024 सितंबर-अक्टूबर 2024 में आयोजित की जाएगी जो लगभग 8 महीने दूर है और उम्मीदवारों को तैयारी के लिए काफी समय देती है। परीक्षा अपने आप में एक विस्तृत प्रक्रिया है जो उम्मीदवारों को न केवल उनके ज्ञान का परीक्षण करती है बल्कि उनकी निर्णय लेने और समस्या सुलझाने की क्षमता की भी जांच करती है। इन क्षमताओं के निर्माण में कुछ समय और अभ्यास लगता है। प्रत्येक उम्मीदवार की अपनी रणनीति होती है, हालांकि यहां कुछ बिंदु दिए गए हैं जो एक उम्मीदवार को SSC CGL परीक्षा के बारे में कुछ विचार प्राप्त करने और अपनी रणनीति बनाने में मदद कर सकते हैं।

SSC CGL परीक्षा 2024 को क्रैक करने की रणनीति

हर साल देश भर से लाखों उम्मीदवार एसएससी सीजीएल परीक्षा में शामिल होने और अच्छे अंकों के साथ उत्तीर्ण होने का संकल्प लेते हैं। हम सभी जानते हैं कि कई स्तरों वाली इतनी विस्तृत परीक्षा को पास करने के लिए, हमें एक स्पष्ट रणनीति के साथ आने की जरूरत है जो हमें लक्ष्य हासिल करने में मदद करेगी। हालाँकि, हमें यह सुनिश्चित करना चाहिए कि हमारी रणनीति व्यावहारिक और हमारी ताकत और कमजोरियों के अनुरूप होनी चाहिए। सामान्य शब्दों में हमें इस बात की जानकारी होनी चाहिए कि हमारे लिए क्या काम करता है और क्या नहीं।

यहां हमारा ध्यान टियर 1 के साथ-साथ टियर 2 के लिए एक व्यापक तैयारी योजना पर होगा। ध्यान रखें कि SSC CGL परीक्षा के सभी सेक्शनों की तैयारी का समग्र लेआउट 3 गुना प्रक्रिया है:

  • चरण 1- अवधारणाओं को सीखें।
  • चरण 2- पिछले वर्ष के प्रश्नों (PYQs) को हल करने का अभ्यास करें।
  • चरण 3- अधिक से अधिक प्रश्नों को बार-बार हल करें।

अवधारणाओं को सीखने में पाठ्यपुस्तकों का अध्ययन करना, ऑनलाइन ट्यूटोरियल देखना और नोट्स बनाना शामिल है। PYQ ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह से उपलब्ध हैं। उन्हें हल करने और दिए गए समाधानों से सीखने से अवधारणाओं के अनुप्रयोग को स्पष्ट करने में मदद मिलती है।

Adda247 द्वारा उपलब्ध कराए गए नए प्रश्नों, मॉक टेस्ट और क्विज़ को हल करने से अर्जित कौशल में वृद्धि होती है। हालाँकि, तैयारी चरण का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा रिवीजन है। हाथ से लिखे नोट्स का संग्रह रखने और उन्हें बार-बार पढ़ने से उम्मीदवार को परीक्षा हॉल में अवधारणा को तुरंत याद करने का आश्वासन मिलता है।

SSC CGL परीक्षा 2024 को क्रैक करने के लिए आपकी रणनीति क्या होनी चाहिए?_30.1

दोनों स्तरों पर कुछ काॅमन विषय हैं। इन विषयों की तैयारी अभ्यास और रिवीजन के बीच एक अच्छा संतुलन है। ये विषय हैं:

  1. क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड
  2. English Comprehension
  3. जनरल इंटेलीजेंस और रीज़निंग
  4. जनरल अवेयरनेस

ये सभी अलग-अलग तरीके के हैं और इनके लिए अलग-अलग कार्य योजनाओं की आवश्यकता होती है।
1. सबसे पहले, आइए सबसे चर्चित सेक्शन यानि क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड पर ध्यान दें। यह चारों में से सबसे अधिक समय लेने वाला और अभ्यास-गहन सेक्शन है जिसमें आमतौर पर समय और ऊर्जा के संदर्भ में सबसे अधिक निवेश की आवश्यकता होती है।
इस सेक्शन की तैयारी में 2 चरण – सीखना और अभ्यास शामिल हैं।
यदि हम SSC CGL सिलेबस 2024 को देखें, तो हम इसे 4 सब-सेक्शनों में विभाजित कर सकते हैं:

  • a) संख्या पद्धति
  • b) अंकगणित
  • c) एडवांस गणित
  • d) सांख्यिकी एवं प्रायिकता

इन्हें तैयार करने का कोई निश्चित क्रम नहीं है और जो तरीका हमारे लिए कारगर हो, उस पर उतरने से पहले अलग-अलग तरीकों को आजमाना हमेशा अच्छा होता है।
इनमें से प्रत्येक के लिए अभ्यास का स्तर प्रत्येक उम्मीदवार के लिए अलग-अलग होता है। हालाँकि, सभी अवधारणाओं को नियमित आधार पर कवर करने के लिए एक फॉर्मूला बुक अपने पास रखना बहुत अच्छा है।

2. आगे हम English Comprehension सेक्शन पर एक नज़र डालते हैं। इस सेक्शन के 3 मुख्य भाग – Vocabulary, Grammar और Comprehension हैं।

  • एक मजबूत शब्दावली की कुंजी याद रखने और दोहराने का नियमित अभ्यास है। Synonyms, antonyms, Idioms, phrases और Phrasal Verbs vocabulary के मुख्य घटक हैं।
  • Grammar में कई अवधारणाएँ हैं जिन्हें समझना आसान है लेकिन बहुत अधिक अभ्यास की आवश्यकता होती है। लक्ष्य दिए गए वाक्य में प्रयुक्त अवधारणा को तुरंत पहचानना और आवश्यकतानुसार विश्लेषण करना होना चाहिए।
  • न केवल इस सेक्शन के लिए बल्कि परीक्षा के सभी सेक्शनों के लिए अच्छी समझ का कौशल होना आवश्यक है क्योंकि जो पूछा जा रहा है उसका विश्लेषण करना समाधान की दिशा में काम करने का पहला कदम है।
  • अखबारों और पत्रिकाओं जैसे विश्वसनीय स्रोतों से विभिन्न विषयों पर लेख पढ़ने की नियमित आदत से vocabulary, grammar और समझ पर अच्छी पकड़ हासिल की जा सकती है।

3. क्वांटिटेटिव एप्टीट्यूड और English Comprehension का एक मजबूत आधार उम्मीदवार को स्वचालित रूप से जनरल इंटेलीजेंस और रीज़निंग की ओर ले जाता है। इस अनुभाग में सबसे महत्वपूर्ण कौशल पैटर्न को पहचानना है। बुनियादी अवधारणाओं को सीखने के बाद उम्मीदवार को पिछले वर्ष के प्रश्नपत्रों के माध्यम से विभिन्न स्तरों के प्रश्नों को हल करने में तर्क विकसित करने का प्रयास करना चाहिए। दिए गए कथनों की मानसिक रूप से कल्पना करने का अभ्यास करना और आवश्यक उत्तर खोजने का प्रयास करना न केवल इस प्रश्न में बल्कि परीक्षा के सभी सेक्शनों में प्रश्न को हल करने का एक शानदार तरीका है।

4. अंतिम लेकिन महत्वपूर्ण बात जनरल अवेयरनेस सेक्शन है। यह पेपर का एक बहुत ही सीधा क्षेत्र है जिसमें दो मेंन सब सेक्शन – स्टैटिक GK और करंट अफेयर्स हैं। हाल के वर्षों में, अन्य प्रतियोगी परीक्षाओं की तरह, CGL का झुकाव भी करंट अफेयर्स की ओर अधिक रहा है, हालांकि स्थैतिक विषयों पर मजबूत पकड़ अभी भी बहुत महत्व रखती है। जैसा कि हम जानते हैं कि करंट अफेयर्स का सिलेबस बहुत बड़ा है, इसलिए हमें होशियार रहना होगा क्या अध्ययन करना है और क्या अभ्यास करना है। ऐसा करने के लिए हमें विभिन्न स्तरों की हाल ही में आयोजित परीक्षाओं पर गहरी नजर रखनी होगी और यह फ़िल्टर करना होगा कि इस सेक्शन की तैयारी करते समय ध्यान केंद्रित करने के लिए सबसे अधिक प्रासंगिक और महत्वपूर्ण विषय क्या हैं।

इन 4 सेक्शनों के अलावा, टियर 2 में कंप्यूटर नॉलेज टेस्ट और डेटा एंट्री स्पीड टेस्ट भी होते हैं जो क्वालीफाइंग प्रकृति के होते हैं लेकिन उम्मीदवार की योग्यता तय करने में बहुत अधिक महत्व रखते हैं। कंप्यूटर ज्ञान को बहुत महत्व दिया जाना चाहिए क्योंकि यह परीक्षा के सामान्य जागरूकता सेक्शन के स्टैटिक GK भाग के साथ भी ओवरलैप होता है। इसे तैयार करने के लिए उम्मीदवार को 1 या 2 स्रोतों का उपयोग करना चाहिए और सामग्री को बार-बार पढ़ना चाहिए। डेटा एंट्री स्पीड टेस्ट के लिए बार-बार अभ्यास, अभ्यास की सदियों पुरानी परंपरा का कोई विकल्प नहीं है।

सभी दसों अंगुलियों से टाइप करना सीखना और कीबोर्ड की ओर नीचे देखे बिना टाइप करना लक्ष्य होना चाहिए। इस परीक्षा के लिए 35+ शब्द प्रति मिनट की नेट टाइपिंग स्पीड पर्याप्त है, इसलिए अभ्यर्थी को प्रत्येक दिन कम से कम 15 से 30 मिनट लगन से समर्पित करने का लक्ष्य रखना चाहिए। स्वयं का अभ्यास करने और परीक्षण करने के लिए विभिन्न निःशुल्क टाइपिंग सॉफ़्टवेयर और वेबसाइटें हैं।

इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि कार्य क्या है या उसे पूरा करने के लिए हमें कितना समय दिया गया है, एक व्यावहारिक और स्मार्ट रणनीति का होना निश्चित रूप से सफलता की ओर एक अपरिहार्य कदम है।

Sharing is caring!

FAQs

SSC CGL 2024 की ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया कब शुरू होगी?

ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया 11 जून 2024 से शुरू होगी और 10 जुलाई 2024 को समाप्त होगी।

SSC CGL 2024 टियर 1 के लिए अपेक्षित तिथि क्या है?

अब तक SSC CGL टियर 1 सितंबर-अक्टूबर 2024 में आयोजित होने की उम्मीद है।

SSC CGL 2024 की पात्रता मानदंड क्या है?

परीक्षा के लिए मूल पात्रता मानदंड किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से किसी भी विषय में स्नातक की डिग्री या समकक्ष है। हालाँकि, राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) में सहायक लेखा परीक्षा अधिकारी/सहायक लेखा अधिकारी, कनिष्ठ सांख्यिकी अधिकारी (JSO), सांख्यिकीय अन्वेषक ग्रेड- II और अनुसंधान सहायक के पदों के लिए कुछ विशेष मानदंड हैं जिनकी विस्तृत अधिसूचना में उम्मीद की जा सकती है।

क्या टियर 1 क्वालीफाइंग प्रकृति का है?

हां, SSC CGL परीक्षा टियर 1 क्वालिफाइंग प्रकृति की है लेकिन यह अनिवार्य है।

क्या SSC आयु में छूट प्रदान करता है?

हाँ, SSC विभिन्न श्रेणियों में आयु में छूट प्रदान करता है। जिसका विवरण इस साल जून में आधिकारिक अधिसूचना में पाया जा सकता है।