26 नवम्बर को आयोजित होगा SSC CHSL स्किल टेस्ट: यहाँ देखें परीक्षा से सम्बन्धित महत्वपूर्ण टिप्स

SSC CHSL टाइपिंग टेस्ट: SSC CHSL(10 + 2) चयन प्रक्रिया के अनुसार, डाटा एंट्री ऑपरेटर (DEO), पोस्टल असिस्टेंट (PA)/ सॉर्टिंग असिस्टेंट (SA), और LDC के पद के लिए टाइपिंग टेस्ट आयोजित किया जाएगा। कंबाइंड हायर सेकेंडरी(10 + 2) लेवल एग्जामिनेशन, 2018 के योग्य उम्मीदवारों के लिए स्किल टेस्ट (टाइपिंग टेस्ट और DEST) 26.11.2020 को आयोजित किया जाना है। उम्मीदवारों नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करके आधिकारिक सूचना की जांच कर सकते है:

आइए हम SSC CHSL टाइपिंग टेस्ट एनालिसिस पर नजर डालते हैं जो उम्मीदवारों को खुद को तैयार करने और अपने प्रदर्शन को बेहतर बनाने में मदद करेगा:
SSC CHSL Typing Test Analysis
1
टाइपिंग टेस्ट के वास्तविक विश्लेषण से पहले , उम्मीदवारों को डेमो टेस्ट लेने के लिए कहा जाएगा। यह निश्चित रूप से अधिकारियों द्वारा झिझक से दूर रखने और गलतियों को दोहराने से बचने के लिए प्राधिकरण द्वारा उठाया गया एक सराहनीय कदम है।
2
टाइपिंग टेस्ट में कोई विशेष चिह्न(Special Characters) नहीं दिए जाते हैं, केवल मूल अक्षर दिए जाते हैं। इसलिए ज्यादा परेशान होने की आवश्यकता नहीं है।
3
टाइपिंग टेस्ट पूरा होने के बाद, उम्मीदवारों से कहा जाता है कि वे सभी वर्णों को अपनी-अपनी लिखावट में A-4 साइज़ के पेपर शीट पर लिखें और इनविजिलेटर के पास जमा करें।
4
यदि उम्मीदवार दिए गए समय से पहले टाइपिंग टेस्ट पूरा कर लेते हैं, तो वे अपने टेस्ट में सुधार(correction) कर सकते हैं।
5
टाइपिंग टेस्ट के दौरान Backspace की अनुमति है
6
उम्मीदवार की त्रुटियां एक निश्चित प्रतिशत से अधिक नहीं होनी चाहिए जो एसएससी द्वारा तय की गई है। दोनों पदों के लिए प्रतिशत त्रुटि सीमा 5% से 7% है।
7
कौशल परीक्षा शुरू होने से 2 मिनट पहले आपको passage मिलेगा।
8
टाइपिंग टेस्ट में कुल तीन passage होंगे
9
आपके द्वारा पैराग्राफ को बदलने के बाद आपको तीन सफेद स्पेस(THREE white space) के बजाय TAB का उपयोग करना है।
10
कीबोर्ड कीज़, जो आपको सॉफ्ट कीज़ प्रदान की जाती हैं यदि, आपको कीबोर्ड या सिस्टम में कोई समस्या है, तो आप इनविजिलेटर को कीबोर्ड बदलने के लिए कह सकते हैं।
11
डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के लिए आपको 10 वीं और 12 वीं क्लास की मार्कशीट और पासिंग सर्टिफिकेट के साथ जेरोक्स कॉपी और 2 पासपोर्ट साइज फोटो लाना होगा।
12
आपको अपना वरीयता फॉर्म पहले से भरना होगा।

SSC CHSL टंकण परीक्षा की महत्वपूर्ण बातें:
  • टाइपिंग टेस्ट अंग्रेजी या हिंदी में आयोजित किया जाएगा और उम्मीदवारों को परीक्षा के लिए आवेदन करते समय, आवेदन पत्र में कौशल परीक्षा माध्यम के लिए उसकी पसंद / विकल्प का संकेत देना होगा।
  • टाइपिंग टेस्ट क्वालीफाइंग होगा।
  • कंप्यूटर आयोग द्वारा या आयोग द्वारा अधिकृत किसी एजेंसी द्वारा प्रदान किया जाएगा.
  • अंग्रेजी माध्यम के लिए चयन करने वाले उम्मीदवारों की टाइपिंग स्पीड 35 शब्द प्रति मिनट होनी चाहिए।
  • हिंदी माध्यम के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों की टाइपिंग गति 30 शब्द प्रति मिनट होनी चाहिए।
  • 10 मिनट में दिए गए पैसेज के कंप्यूटर पर टाइपिंग की सटीकता पर विचार किया जाएगा।
  • यदि कोई भी उम्मीदवार टाइपिंग के लिए किसी माध्यम का विकल्प नहीं चुनता है, तो उसका विकल्प अंग्रेजी माध्यम के लिए माना जाएगा
  • नेत्रहीन दिव्यांग उम्मीदवारों (40% विकलांगता और ऊपर) को 30 मिनट की अनुमति होगी।
स्किल टेस्ट: कंप्यूटर पर स्पीड टेस्ट में डाटा एंट्री कार्य के लिए कुंजी प्रविष्टि(key depressions) प्रति घंटे 15000 से कम नहीं होनी चाहिए।
अंग्रेजी:

LDC: 10 मिनट(35 शब्द प्रति मिनट या 1750 प्रविष्टि)
DEO: 15 मिनट(27 शब्द प्रति मिनट या 2000 प्रविष्टि)

HINDI

LDC: 10 मिनट(30 शब्द प्रति मिनट या 1500 प्रविष्टि)

DEO और LDC के लिए त्रुटि % निकालने का सूत्र:

 

इन गलतियों से बचें:

  1. बड़ी गलतियाँ: निम्नलिखित त्रुटियों को बड़ी गलतियाँ मानी जाती है:
  • शब्द/आकृति की अनुपस्थिति की चूक।
  • गलत शब्द/आकृति के प्रतिस्थापन की प्रत्येक चूक।
  • पैसेज में नहीं दिए गए शब्द/आकृति के जोड़ने की प्रत्येक चूक।

2. छोटी गलतियाँ: निम्नलिखित त्रुटियों को छोटी गलतियाँ मानी जाती है:

  • स्पेस की गलतियाँ: जहां दो शब्दों के बीच कोई स्पेस प्रदान नहीं किया जाता है, जैसे- ‘Ihope’ या शब्दों के बीच अवांछित जगह पर प्रदान की गयी स्पेस, जैसे- hope I have, ‘I hxxave’.
  • वर्णों की पुनरावृत्ति: पुनरावृत्ति या जोड़ या स्थानांतरण की चूक के माध्यम से किए गए वर्तनी की प्रत्येक त्रुटि। जैसे-spelling’ को ‘seeplings’ के रूप में टाइप किया गया हो।
  • गलत स्थान पर कैपिटल लेटर में लिखना: कैपिटल और स्माल वर्णों का गलत उपयोग। (यह हिंदी टंकण लिपियों पर लागू नहीं होता है)।

नोट: पेन या पेंसिल द्वारा किए गए किसी भी सुधार को नजरअंदाज किया जाता है और इस तरह के सुधार के लिए कोई क्रेडिट नहीं दिया जाता है।

SSC CHSL टंकण परीक्षा में गलतियों के अनुसार कट-ऑफ:

संयुक्त उच्चतर माध्यमिक स्तर (10 + 2) परीक्षा, 2015 में टाइपिंग टेस्ट में गलतियों का कट-ऑफ निम्नलिखित था: –
डाटा एंट्री ऑपरेटर के लिए
UR SC ST OBC EXS OH HH VH
DEST में गलतियों के प्रतिशत का कट-ऑफ 5% 7% 7% 7% 7% 7% 7% 7%

पोस्टल असिस्टेंट / छंटनी सहायक / लोअर डिवीजन क्लर्क के लिए:

UR SC ST OBC EXS OH HH VH
टाइपिंग टेस्ट में गलतियों के प्रतिशत पर कट-ऑफ 7% 10% 10% 10% 10% 10% 10% 10%
आप इन्हें भी पढ़ सकते हैं-

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *