Access to All SSC Exams Courses Buy Now
Home Articles ऋषि कपूर (1952 -2020): बॉलीवुड की धड़कन

ऋषि कपूर (1952 -2020): बॉलीवुड की धड़कन

ऋषि कपूर की जीवनी: उनके जीवन, कैरियर, पुरस्कार, बीमारी और मृत्यु के साथ अनुभवी अभिनेता ऋषि कपूर की यात्रा के बारे में जानें।

0
209

ऋषि कपूर ((1952 – 2020)

साल 2020 एक बुरा समय बन गया है। महामारी ही नहीं, भारत में सिनेमा के महान अभिनेताओं भी हमारे बीच से जा रहे है। अभिनेता इरफान खान, जो अपने मूक भावों के लिए जाने जाते हैं, उनका कल निधन हो गया, उनके बाद हमने एक और रत्न, अनुभवी अभिनेता ऋषि कपूर को खो दिया है। वह ल्यूकेमिया से जूझ रहे थे, 2018 में उन्हें पहली बार इस बीमारी का पता चला था। डाईग्नोसिस के बाद, वे एक साल इलाज के लिए न्यूयॉर्क में थे और सितंबर 2019 में भारत लौटे। 29 अप्रैल को उन्हें सांस लेने की समस्या थी, इसलिए उन्हें मुंबई के सर एचएन रिलायंस फाउंडेशन अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उन्होंने अंतिम सांस ली।

ऋषि कपूर, बॉलीवुड के आकर्षक व्यक्तित्व के साथ उनके बहुत अधिक फैन थे, जिसमें सभी उन्हें प्यार करते थे। उनका जोशीला स्वभाव और दिलकश मिजाज हमेशा ऑन-स्क्रीन और ऑफ-स्क्रीन लोगों का मनोरंजन करता था। आज के समय में उन्हे ‘चिंटू’ भी कहा जाता हैं। आइए वर्षों के माध्यम से उसकी कैरियर पर एक नज़र डालें

List of Important Days in May

ऋषि कपूर का व्यक्तिगत जीवन

ऋषि कपूर का जन्म 4 सितंबर 1952 को मुंबई में राज कपूर और कृष्णा राज कपूर के घर हुआ था। वह अभिनेता पृथ्वीराज कपूर के पोते थे। उन्होंने कैंपियन स्कूल, मुंबई से स्कूलिंग की और बाद में मेयो कॉलेज, अजमेर से स्नातक किया। उन्होंने अपनी एक फिल्म की शूटिंग के दौरान नीतू सिंह से मुलाकात की और बाद में 22 जनवरी, 1980 को उनसे शादी कर ली। उनके दो बच्चे हैं- अभिनेता रणबीर कपूर और डिजाइनर रिद्धिमा कपूर सहानी।

कैरियर

ऋषि कपूर ने अपने पिता की फिल्म ‘मेरा नाम जोकर’ से 1970 में डेब्यू से अपनी शुरुआत की, जहाँ उन्होंने राजकपूर के बचपन का किरदार निभाया। अपनी पहली
डेब्यू फिल्म के लिए, उन्हें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार भी मिला। एक बच्चे के रूप में अभिनय करने के बाद, उन्होंने पहला महत्वपूर्ण रोल 1973 की फिल्म, “बॉबी” में डिंपल कपाड़िया के साथ थी। यह फिल्म दशक की सबसे बड़ी हिट बन गई। ऋषि कपूर ने 2012 में एक साक्षात्कार में कहा, “एक गलत धारणा थी कि डेब्यू फिल्म मुझे अभिनेता रूप में सामने लाने के लिए बनायी गयी। फिल्म वास्तव में मेरा नाम जोकर के कर्ज का भुगतान करने के लिए बनाई गई थी। पिताजी एक किशोर प्रेम कहानी बनाना चाहते थे और राजेश खन्ना को फिल्म में लेने के लिए पैसे नहीं थे।”

“बॉबी” के बाद, उन्होंने 1973 और 2000 के बीच 92 फिल्मों में एक रोमांटिक लीड के रूप में अभिनय किया। उनके कुछ लोकप्रिय फिल्मों में खेल खेल में (1975), कभी कभी (1976), अमर अकबर एंथनी (1977), कर्ज ( 1980), और चांदनी (1989) आदि है।

What is Plasma Therapy: A Possible Treatment For Coronavirus?

बीमारी

2018 में, ऋषि कपूर को ल्यूकेमिया का पता चला था जो एक रक्त कैंसर है जो अस्थि मज्जा से शुरू होता है। फिर वे कैंसर के इलाज के लिए न्यूयॉर्क गए। वहां से सितंबर 2019 में एक साल बाद वापस आएं। परिवार के अनुसार 29 अप्रैल को,उन्हें साँस लेने में दिक्कत हो रही थी और इसलिए मुंबई के सर एच. एन. रिलायंस फाउंडेशन अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 30 अप्रैल को सुबह-सुबह उनका निधन हो गया। यह ऋषि कपूर के परिवार द्वारा उनकी मृत्यु के बाद मीडिया को दी गयी जानकारी है।

Image may contain: 1 person, possible text that says 'dear Rishi Kapoor passed away peacefully at 8:45 am IST hospital today after battle with leukemia...H was grateful love of his fans that poured from the world over. In his passing, would all understand that would like be remembered with smile and not with tears. In hour of personal loss, we also recognise the world is going through very difficult troubled time. There are numerous restrictions around movement gathering in public. We would request all his fans well-wishers friends of the family please respect the laws that are in force. would not have it any other way.'

अवार्ड

  • 1970- फिल्म “मेरा नाम जोकर” के लिए राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार
  • 1974 – “बॉबी” में सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए फिल्मफेयर अवार्ड
  • 2008 – फिल्मफेयर लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड
  • 2009 – सिनेमा में योगदान के लिए रूसी सरकार द्वारा सम्मानित किया गया
  • 2011 – जी सिने अवार्ड्स: नीतू सिंह के साथ बेस्ट लाइफटाइम जोड़ी
  • 2011 – दो दुनी चार के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए फिल्मफेयर क्रिटिक्स अवार्ड
  • 2016 – स्क्रीन लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड
  • 2017 – कपूर एंड संस के लिए सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता का फिल्मफेयर पुरस्कार
  • 2017 – सहायक भूमिका में सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए जी सिने अवार्ड – कपूर एंड संस के पुरुष
  • 2017 – कपूर एंड संस में कॉमिक रोल के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का ज़ी सिने अवार्ड

MGNREGA Scheme: All You Need To Know

Improve Your Career Skills During Lockdown

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here