Latest SSC jobs   »   PM नरेंद्र मोदी ने करी COVID...

PM नरेंद्र मोदी ने करी COVID वारियर्स वेबसाइट की घोषणा : जानिए, इससे संबंधित महत्वपूर्ण बातें

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में रविवार को घोषणा की कि सरकार सामाजिक संगठनों के स्वयंसेवकों, नागरिक समाज और स्थानीय प्रशासन के प्रतिनिधियों को जोड़ने के लिए एक डिजिटल मंच लेकर आयी है। नयी वेबसाइटCOVID वारियर्स, सामाजिक संगठनों के स्वयंसेवकों, नागरिक समाज और स्थानीय प्रशासन के प्रतिनिधियों को जोड़ेगी। इस वेबसाइट के माध्यम से, सामाजिक संगठन, स्थानीय प्रशासन के लोग और नागरिक समाज के कर्मचारी एक दूसरे के साथ जुड़ सकेंगे। पीएम मोदी ने कहा है कि भारत सरकार ने देशवासियों के लिए यह मंच तैयार किया है। इसके जरिए लोग कोरोनावायरस को फैलने से रोक पाएंगे। यह कोरोना श्रृंखला को तोड़ने में मदद करेगा।

COVID वारियर्स वेबसाइट क्या है?

नई COVID वारियर्स वेबसाइट, डॉक्टरों, नर्सों, आशा कार्यकर्ताओं, NSS, NCC से संबंधित जानकारी प्रदान करने के लिए एक अम्ब्रेला पोर्टल के रूप में कार्य करती है, और इनसे संबंधित सभी लोग वेबसाइट पर मौजूद हैं। लोग इस पर जानकारी ले सकते हैं और यहां तक कि कोरोना वायरस संकट के दौरान सेवा करने के लिए वोलेंटियर बन सकते हैं।

पीएम मोदी ने कहा, “मेरे प्यारे देशवासियों, मैं विनम्रतापूर्वक और सम्मानपूर्वक, आज, 130 करोड़ देशवासियों की आत्मा को सिर झुकाकर नमन करता हूं। सरकार द्वारा एक डिजिटल प्लेटफॉर्म भी तैयार किया गया है, ताकि आप आपने समय के अनुसार तथा अपनी रुचि के अनुसार देश के योगदान दे सकें।”

COVID वारियर्स वेबसाइट की विशेषताएं

यह वेबसाइट अस्पतालों, पंचायत सचिवों, पशु चिकित्सकों, प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (PMKVY) से प्रशिक्षित स्वास्थ्य पेशेवरों, आयुष (आयुर्वेद, योग और प्राकृतिक चिकित्सा, यूनानी, सिद्धा और होम्योपैथी मंत्रालय) के डॉक्टरों, कर्मचारियों और छात्रों के साथ अन्य क्षेत्रों, जिनकी सेवाओं का उपयोग कोविड -19 के खिलाफ सरकार की लड़ाई में किया जा रहा हैं, बारे में विवरण प्रदान करेगी।
आधिकारिक जानकारी के अनुसार, भारत सरकार ने नगरपालिका, जिला और राज्य स्तर पर जमीनी स्तर पर प्रशासन के उपयोग के लिए डॉक्टरों, पैरामेडिकल स्टाफ NYK, NCC, NSS, PMGKVY के वोलेंटियर, और भूतपूर्व सैनिकों का ऑनलाइन डेटा पूल बनाया है।

यह जानकारी डैशबोर्ड पर अपलोड की गई है जिसे नियमित रूप से अपडेट किया जाता है। कॉविड -19 और इससे लड़ने के लिए इस अत्यंत महत्वपूर्ण मानव संसाधन की जानकारी के बारे में लिए सूचित करते हुए, अरुण कुमार पांडा, सचिव, एमएसएमई और अध्यक्ष, और सी चंद्रमौली, सचिव, मानव संसाधन सशक्तीकृत समूह -4 द्वारा एक संयुक्त पत्र सभी मुख्य सचिवों को भेजा गया है।

कोरोनोवायरस के सरकारी अस्पताल में फैलने से रोकने के लिए, केरल ने COVID-19 रोगियों की सेवा के लिए “कर्मी-बोट” नाम का एक रोबोट भी तैनात किया है। रोबोट का उपयोग मेडिकल कॉलेज के COVID-19 आइसोलेशन वार्ड में मरीजों की सहायता के लिए किया जाएगा।

उत्तर प्रदेश सरकार ने 30 जून, 2020 तक सार्वजनिक सभा पर प्रतिबंध लगाने का निर्णय लिया है। राज्य सरकार ने यह निर्णय, COVID-19 की स्थिति पर राज्य की 11 समितियों के अध्यक्षों के साथ बैठक के दौरान लिया। इसके अलावा भारतीय सूचना प्रौद्योगिकी और प्रबंधन संस्थान – केरल (IIITM-K) ने “विलोकन” नाम से एक सर्च इंजन विकसित किया है, जिसका संस्कृत में अर्थ पता लगाना होता है।

Sharing is caring!

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *