Latest SSC jobs   »   भारत की 15वीं राष्ट्रपति, द्रौपदी मुर्मू   »   भारत की 15वीं राष्ट्रपति, द्रौपदी मुर्मू

भारत की 15वीं राष्ट्रपति, द्रौपदी मुर्मू : नए राष्ट्रपति को कौन दिलाएगा शपथ, जानें राष्ट्रपति पद की समस्त जानकारी विस्तार से

द्रौपदी मुर्मू

Draupadi Murmu, 15th President of India: एक आदिवासी महिला, द्रौपदी मुर्मू 21 जुलाई 2022 को भारत की 15वीं राष्ट्रपति बनीं। वह NDA से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार थीं और विपक्षी उम्मीदवार यशवंत सिन्हा की तुलना में 540 अधिक वोट प्राप्त करके चुनाव जीतीं। मुर्मू मूल रूप से ओडिशा के मयूरभंज जिले के रायरंगपुर की रहने वाली हैं। मुर्मू ओडिशा के संथाली आदिवासी परिवार से हैं। वह पहली आदिवासी महिला बनीं जिन्होंने देश में इस तरह का सर्वोच्च पद हासिल किया और प्रतिभा पाटिल के बाद भारत की दूसरी महिला राष्ट्रपति भी बनीं। उन्होंने देश में एक शीर्ष संवैधानिक पद हासिल किया और भारत के 16वें राष्ट्रपति चुनाव में बड़ी जीत हासिल की।

Droupadi Murmu Became the 15th President Of India

भारत के राष्ट्रपति चुनाव 2022 के हाइलाइट्स

  • भारत में राष्ट्रपति चुनाव 18 जुलाई 2022 को आयोजित किया गया था।
  • इस राष्ट्रपति चुनाव में देश भर के सभी निर्वाचित विधायकों और सांसदों ने मतदान किया।
  • द्रौपदी मुर्मू NDA से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार थीं, जबकि उनके विपक्षी उम्मीदवार यशवंत सिन्हा विपक्षी दलों के उम्मीदवार थे।
  • मतों की गिनती 21 जुलाई 2022 को की गई है।
  • मुर्मू को 71.79℅ वोट मिले जबकि यशवंत सिन्हा को लगभग 28% वोट मिले
  • मुर्मू आखिरकार भारत के 15वें राष्ट्रपति के रूप में चुनी गईं।
  • उहोने रामनाथ कोविंद का स्थान लिया, जिनका कार्यकाल 24 जुलाई 2022 को समाप्त होगा।

द्रौपदी मुर्मू के बारे में कुछ महत्वपूर्ण बातें: भारत की नई राष्ट्रपति

  • उनका जन्म 20 जून 1958 को ओडिशा राज्य के मयूरभंज जिले के रायरंगपुर नामक स्थान पर हुआ था।
  • वह एक गरीब संथाली आदिवासी परिवार से ताल्लुक रखती हैं। गोंड और भीलों के बाद संथाली जनजाति भारत की तीसरी सबसे बड़ी जनजाति है। संथाली जनजातियों की आबादी ज्यादातर भारत के ओडिशा, झारखंड और पश्चिम बंगाल राज्यों में रहती है।
  • प्रतिभा पाटिल के भारत के राष्ट्रपति के रूप में चुने जाने के बाद वह दूसरी महिला राष्ट्रपति बनीं और भारत की राष्ट्रपति बनने वाली पहली आदिवासी महिला भी बनीं।
  • उन्होंने रमा देवी महिला कॉलेज भुवनेश्वर से कला में स्नातक की पढ़ाई पूरी की।

भारत की 15वीं राष्ट्रपति, द्रौपदी मुर्मू : FAQs

Q. भारत की नई राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू को शपथ कौन दिलाएगा? 
ans. देश के चीफ जस्टिस NV रमना नए राष्ट्रपति को 25 जुलाई को शपथ दिलाएंगे.

Q. किस अनुच्छेद में राष्ट्रपति चुनाव का उल्लेख है? 
ans. भारत के राष्ट्रपति चुनाव का उल्लेख संविधान के अनुच्छेद 54 में है।

Q. किस अनुच्छेद में चीफ जस्टिस द्वारा राष्ट्रपति को शपथ दिलाने का उल्लेख है? 
ans. भारत के राष्ट्रपति को देश के चीफ जस्टिस शपथ दिलाते हैं, संविधान के अनुच्छेद 60 में राष्ट्रपति स्पष्ट रूप से इसका उल्लेख किया गया है। चीफ जस्टिस की अनुपस्थिति में, सुप्रीम कोर्ट के सीनियर मोस्ट जस्टिस शपथ दिला सकते हैं।

Q. राष्ट्रपति का कार्यकाल कितने वर्षों का होता है? 
ans. राष्ट्रपति का कार्यकाल 5 वर्ष का होता है।

Q. राष्ट्रपति को शपथ 25 जुलाई को ही क्यों दिलाई जाती है?
ans. राष्ट्रपति कब शपथ लेगा इस बात को लेकर संविधान में किसी भी तरह का कोई उल्लेख नहीं है। 1977 में नीलम संजीव रेड्डी निर्विरोध राष्ट्रपति चुने गए थे। उन्होंने 25 जुलाई 1977 को राष्ट्रपति पद की शपथ ली थी। तभी से ही यह परंपरा बन गई और उसके बाद से सभी राष्ट्रपति 25 जुलाई को शपथ लेते हैं।

देश के कई शीर्ष नेताओं ने ट्वीट कर द्रौपदी मुर्मू को उनकी ऐतिहासिक जीत पर बधाई दी और वह भारत की 15वीं राष्ट्रपति बनीं।

Sharing is caring!

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *