Latest SSC jobs   »   GA Study Notes in hindi   »   जानिए PM केयर फंड और PM-नेशनल...

जानिए PM केयर फंड और PM-नेशनल रिलीफ फण्ड के बीच अंतर

विभाजन के समय पाकिस्तान से विस्थापित हुए लोगों की मदद के लिए प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (PM NRF) की स्थापना 1948 में की गई थी। इसकी स्थापना प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने की थी। दूसरी ओर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 27 मार्च 2020 को पीएम केयर फंड की स्थापना की गई थी। पीएम केयर फंड की स्थापना के पीछे मुख्य उद्देश्य भारत में कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए वित्त की व्यवस्था करना है। नीचे पोस्ट में PM केयर फंड और प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष(नेशनल रिलीफ फण्ड) से संबंधित सभी जानकारी प्राप्त करें।

प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष

जैसा कि पहले बताया गया था, PMNRF की स्थापना प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने जनवरी 1948 में पाकिस्तान से विस्थापितों की सहायता के लिए की गयी थी। PMNRF द्वारा प्रदान की गई जानकारी के अनुसार, 1973 में PMNRF का पूरा प्रबंधन प्रधानमंत्री को सौंपा गया था। तब से PMNRF में कोई बदलाव नहीं किया गया है और आज भी इसे एक ट्रस्ट के रूप में मान्यता प्राप्त है और प्रधानमंत्री द्वारा प्रधानमंत्री कार्यालय (PMO) से संचालित किया जाता है। यह निधि अब बाढ़, भूकंप और चक्रवात जैसी आपदाओं से प्रभावित व्यक्तियों और दंगों और दुर्घटनाओं के शिकार लोगों को सहायता प्रदान करती है। PMNRF फंड का इस्तेमाल किडनी ट्रांसप्लांट, हार्ट सर्जरी, एसिड अटैक और जरूरतमंद लोगों के कैंसर के इलाज के लिए भी किया जाता है। प्रधानमंत्री राष्ट्रीय राहत कोष का हर साल ऑडिट किया जाता है। वार्षिक ऑडिट, निधि की वित्तीय स्थिति की स्पष्ट स्थिति सामने लाती है।

बोर्ड के सदस्य:

PMNRF एक ट्रस्ट है जिसमें निम्नलिखित शामिल है:

  • प्रधानमंत्री
  • उप प्रधानमंत्री
  • भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अध्यक्ष
  • वित्त मंत्री
  • टाटा ट्रस्टीज़ का एक प्रतिनिधि
  • उद्योग और वाणिज्य का एक सदस्य, जो फेडरेशन ऑफ इंडियन चैंबर ऑफ कॉमर्स द्वारा तय किया गया है

कर लाभ:

प्रधान मंत्री राष्ट्रीय राहत कोष (PMNRF) के लिए सभी दान आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 80G के तहत कर योग्य आय से 100% कटौती के लिए अधिसूचित हैं।

Our Solar System: Formation, Planets, Facts, And Questions

PM केयर फंड:

पीएम केयर फंड की स्थापना वर्तमान प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा 27 मार्च 2020 को की गई है। इसकी स्थापना के पीछे मुख्य उद्देश्य सार्वजनिक स्वास्थ्य आपातकाल या किसी अन्य प्रकार की आपात, मानव निर्मित या प्राकृतिक आपदा, जिसमें स्वास्थ्य सेवा या दवा सुविधाओं का निर्माण या उन्नयन, अन्य आवश्यक बुनियादी ढाँचे, प्रासंगिक अनुसंधान या किसी अन्य प्रकार का समर्थन शामिल है से संबंधित किसी भी तरह की राहत या सहायता करना है।PM CARES का विस्तारित नाम The Prime Minister’s Citizen Assistance and Relief in Emergency Situations Fund है। पहले फंड का कोई ऑडिटर नहीं था। अब राजनीतिक दबाव के कारण, सरकार ने PM Cares Fund के लिए एक ऑडिटर नियुक्त किया है जो निधियों की स्पष्ट स्थिति बताएगा।

बोर्ड के सदस्य:

न्यासी बोर्ड के अध्यक्ष(प्रधानमंत्री) के पास तीन न्यासी बोर्ड को नामित करने की शक्ति है, जो अनुसंधान, स्वास्थ्य, विज्ञान, सामाजिक कार्य, कानून, लोक प्रशासन और जनकल्याण के क्षेत्र में प्रतिष्ठित व्यक्ति होंगे। PM Cares के बोर्ड में निम्नलिखित सदस्य हैं:

  • प्रधानमंत्री
  • वित्त मंत्री
  • गृह मंत्री
  • रक्षा मंत्री

कर लाभ:

PM CARES फंड को दान आयकर अधिनियम, 1961 के 80G के लाभ के अंतर्गत 100% छूट के योग्य है। PM CARES फंड में दान भी कंपनी अधिनियम, 2013 के तहत कॉर्पोरेट सामाजिक दायित्व (CSR) व्यय के रूप में गिना जाता है।

PM CARES फंड को FCRA के तहत छूट भी मिली है और विदेशी दान प्राप्त करने के लिए एक अलग खाता भी है। यह विदेशों से दान और योगदान स्वीकार करने में PM CARES फंड की मदद करता है।

PM केयर फंड और PM-नेशनल रिलीफ फण्ड के बीच अंतर:

  • PM-नेशनल रिलीफ फण्ड

तुलना PMNRF
स्थापना का उद्देश्य PM NRF फंड बाढ़, भूकंप और चक्रवात जैसी आपदाओं से प्रभावित लोगों और दंगों और दुर्घटनाओं के शिकार लोगों को सहायता प्रदान करता है।
स्थापना की तिथि जनवरी 1948
अध्यक्ष भारत के प्रधानमंत्री
बोर्ड के सदस्य कांग्रेस अध्यक्ष और फिक्की और टाटा ट्रस्ट के प्रतिनिधि।
कर छूट PMNRF को दान देने वाले योगदानकर्ताओं को 100% कर में छूट मिलती है।
ऑडिटर SARC एसोसिएट्स चार्टर्ड अकाउंटेंट इसके ऑडिटर हैं।
वर्तमान राशि 3800 करोड़ रु.
  • PM केयर फंड

तुलना PM CARES
स्थापना का उद्देश्य कोविड-19 से प्रभावित लोगों की मदद करने के लिए
स्थापना की तिथि 27 मार्च 2020
अध्यक्ष भारत के प्रधानमंत्री
सदस्य गृह मंत्री, वित्त मंत्री और रक्षा मंत्री ट्रस्ट के सदस्य हैं। प्रधान मंत्री 3 अन्य प्रतिष्ठित व्यक्तियों को नामित कर सकते है।
कर छूट दान की गई राशि कर छूट के अंतर्गत आएगी।
ऑडिटर SARC एसोसिएट्स चार्टर्ड अकाउंटेंट
वर्तमान राशि 9,677.9 करोड़ रु.

PMNRF और PM CARES के बीच समानता:

PMNRF और PM CARES में निम्नलिखित समानता हैं:

  • दोनों फंड व्यक्तियों और संगठनों द्वारा स्वैच्छिक योगदान स्वीकार करते हैं और उन्हें न तो सरकार द्वारा वित्तपोषित किया जाता है और न ही उन्हें कोई बजटीय सहायता मिलती है।
  • दोनों ही धनराशि प्रधानमंत्री की अपनी पदेन क्षमता में सृजित है और सरकार के दायरे में नहीं आती है.
  • दोनों फंड एक जैसे कारणों यानी चैरिटी और नागरिकों को राहत के लिए बनाए गए हैं।
  • किसी भी सरकारी प्रोजेक्ट में फंड के पैसे का इस्तेमाल नहीं किया जाता है।

इन्हें भी पढ़ें

Sharing is caring!

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *